Monday, February 22, 2016

बेबसी

दो फूल तुम्हें अर्पण करने का न अधिकार हमारा,
जीवन से तेरे दूर हुआ मैं,खुश हो संसार तुम्हारा


--दो फूल ..


एक बार हुआ था इस जीवन में, तुमने मुझे संवारा,
एकतरफा निर्णय लेकर ही तुम ओझल हुए दुबारा !!

--दो फूल तुम्हें.... 
                      --सौरभ 

No comments: